NEWS & EVENTS

सुरति समाधि - कालीकट, केरल

कालीकट, केरल कालीकट में 13 से 18 फरवरी 2016 को आचार्यश्री ओशो नयन जी एवं स्वामी आनंद अभिशेक के संचालन में सुरति समाधि शिविर का आयोजन हुआ। सभी साधक मित्रों ने परमात्मा के दिव्य संगीत 'ओंकार में गहरे डूबकर समाधि में जाने की कला को सीखा तथा अहोभाव से भरकर खूब उत्सव मनाया। साथ में विपस्सना समाधि कार्यक्रम का भी आयोजन हुआ जिसमें उपसिथत सभी मित्रों ने माला दीक्षा ली।

Read More

आनंद प्रज्ञा शिविर - पुडुचेरी

पुडुचेरी 20 से 22 फरवरी 2016 को पुडुचेरी में ओशोधारा आनंद प्रज्ञा शिविर का आयोजन किया गया। मा सुजाता ने बड़े रोचक अंदाज में लोगों को आननिदत व प्रफुलिलत जीवन जीने के अनमोल सूत्रों को समझाया। प्रतिभागियों में इंटरमिषन आरफेनेज के बच्चों ने खूब उत्साह के साथ भाग लिया तथा अपने अनुभव षेयर किए।

Read More

ध्यान शिविर - सिकन्दराबाद, तेलंगाना

सिकन्दराबाद, तेलंगाना 21 जनवरी 2016 को ओशोधारा संघ, सिकन्दराबाद द्वारा गुरु गणेष भवन, सिकन्दराबाद में अद्र्ध-दिवसीय ध्यान शिविर का आयोजन किया गया। आचार्य ओशो अनहद जी एवं मा ओशो विभा जी ने प्रतिभागी मित्रों को 'हारमोनियस लिविंग पर प्रकाष डालते हुए ओशो की ध्यान विधियों को प्रयोग द्वारा अनुभव कराया तथा ओशोधारा के ध्यान समाधि कार्यक्रम को विस्तार से समझाते हुए उन्हें इसमें भाग लेने को प्रेरित किया।

Read More

एक-दिवसीय ध्यान शिविर - लुधियाना, पंजाब

लुधियाना, पंजाब लुधियाना के ज़ायका रेस्टुरेंट में 21 फरवरी 2016 को एक-दिवसीय ध्यान शिविर का आयोजन हुआ। आचार्य ओशो बोधिकिरण जी, ओशो जगजीत जी एवं मा ओशो दिव्यानी जी ने उपसिथत मित्रों को ओशो की विभि™ा ध्यान विधियों को प्रयोग द्वारा अनुभव कराया। सभी ने उत्सव मनाकर परमगुरु ओशो तथा सदगुरु त्रिविर के प्रति अहोभाव व्यक्त किए। जोनल संयोजक ओशो जगजीत जी ने माला दीक्षा दी। सभी स्थानीय समाचारपत्रों ने इसे प्रमुखता से स्थान दिया। शिविर के सफल आयोजन में कुंज बिहारी जी, डा. षविन्दर सिंह, मंजीत जी, श्री मनिन्दर षर्मा, डा. रवि चोपड़ा, प्रीतम जी, तारा सिंह जी, मा प्रेम दिषा, हरजीत कौर जी एवं चंद्रभान जी ने सराहनीय योगदान दिया।

Read More

ध्यान समाधि शिविर - भैणी साहब, पंजाब

भैणी साहब, पंजाब ओशोधारा की भैणी साहब टीम द्वारा 13 से 18 फरवरी 2016 को ग्रेवाल फार्म सिथत ओशोधारा ध्यान केंद्र में ध्यान समाधि शिविर का आयोजन हुआ। आचार्य ओशो षेखर, ओशो अनुग्रह, श्री चरणजीत ढांडा एवं मा ओशो दिव्यानी के संचालन में प्रतिभागियों ने 'आननिदत व प्रफुलिलत जीवन जीने की कला के साथ ही ओशो की सरल किन्तु क्रानितकारी ध्यान विधियों को न सिर्फ जाना बलिक प्रयोग द्वारा अनुभव भी किया। पांचवें दिन 'नाद दीक्षा के माध्यम से सभी परमात्मा के दिव्य संगीत 'ओंकार को सुनकर परमगुरु ओशो व सदगुरु त्रिविर के प्रति अहोभाव से भरकर सहज ही गा उठे- 'पायो जी मैंने राम रतन धन पायो। ओशो बोधिकिरण जी ने साधकों को माला दीक्षा से नवाजा। श्री लखविन्दर ग्रेवाल, श्री हरप्रीत एवं अन्य मित्रों ने शिविर के आयोजन में अहम भूमिका निभार्इ।

Read More

नागपुर, महाराष्ट्र

नागपुर, महाराष्ट्र ओशोधारा संघ, नागपुर के तत्वावधान में श्री सुरेद्रजी बिडवाइक और ओमप्रकाशजी गुप्ता द्वारा 13 फरवरी को पेन्शन नगर , नागपुर में कालेज के विधाद्रथयों के लिए 'ध्यान के माध्यम से व्यäतिव विकास विशय पर सुंदर कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें भारी संख्या में नए मित्रों ने भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन ओशो भरत जी ने बहुत ही रोचक शैली में किया। कालेज के विधाद्रथयों एवं पालकाें ने ध्यान हमारे व्यäतिव विकास में ध्यान कैसे सहयोगी हो, इसे नए अंदाज में जाना। नए मित्रों ने आननिदत जीवन जीने की कला पर आधारित ओशोधारा के अदभुत कार्यक्रम 'आनंद प्रज्ञा में भाग लेने की इच्छा जतार्इ।

Read More

एक-दिवसीय ध्यान शिविर - द्वारका, दिल्ली

द्वारका, दिल्ली 7 फरवरी 2016 को द्वारका, दिल्ली में एक-दिवसीय ध्यान शिविर का आयोजन सदगुरु त्रिविर के आशीर्वाद व आचार्यश्री ओशो सूरज जी के सानिध्य में सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। द्वारका के अधिकतर प्रिंट मीडिया ने शिविर को अच्छा कवरेज दिया। भारी संख्या में उपसिथत मित्रों ने वैज्ञानिक ढंग से तैयार की गर्इ ओशो की ध्यान विधियों का आनंद लिया। आयोजकों द्वारा सभी मित्रों को ओशो के अमृतवचनों की सी.डी. तथा एक पौधा सहित सुंदर गमला भेंट कर ओधोधारा के आगामी कार्यक्रमों में भाग लेने का न्योता दिया। शिविर को सफल बनाने में ओशो सूरज जी का परिवार व राज्य-संयोजक स्वामी सरबजीत जी, माँ प्रेम योगिनी, अनुपमा, ओशो साहिबा व द्वारका संघ के सभी सक्रिय साधकों का भावपूर्ण योगदान रहा।

Read More

संध्या सत्संग व ध्यान कार्यक्रम - नागपुर, महाराष्ट्र

नागपुर, महाराष्ट्र ओशोधारा संघ नागपुर के श्री कांतिभार्इ पटेल द्वारा उन के फार्म हाउस पर 15 फरवरी की शाम ओशो गोपाल जी के साथ एक संध्या सत्संग व ध्यान कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें कर्इ नए मित्रों ने अपने जीवन से सम्बनिधत प्रष्नों का समाधान पाया। सदगुरु मा के भकित संगीत पर नृत्य करते हुए प्रीतिभोज के साथ उत्सव का समापन हुआ।

Read More

सत्संग एवं ध्यान शिविर - नागपुर, महाराष्ट्र

नागपुर, महाराष्ट्र ओशोधारा गीता मंदिर ध्यान केंद्र, नागपुर में 14 फरवरी 2016 को मैत्री दिवस के अवसर पर आचार्यश्री ओशो गोपाल जी के सा™ािध्य में सत्संग एवं ध्यान शिविर का आयोजन किया गया। प्रष्नोŸार सत्र में आचार्य जी ने सदगुरु की महत्ता समझाते हुए उनकी जिज्ञासाओं का समाधान भी किया। सभी ने परमगुरु ओशो तथा सदगुरु त्रिविर के आषीश को अनुभव किया।

Read More

मुद्रा चिकित्सा - जोधपुर, राजस्थान

जोधपुर, राजस्थान 12 से 14 फरवरी 2016 को स्वास्थ्य साधना केंद्र, जोधपुर में योगाचार्य डा. रमेष पुरी जी एवं आचार्य ओशो दयाल जी के सा™ािध्य में त्रि-दिवसीय मुद्रा चिकित्सा शिविर संपन्न हुआ। आचार्यद्वय के संचालन में साधक मित्रों ने अपनी अंगुलियों द्वारा निद्रमत विभि™ा मुद्राओं में छुपे हुए रहस्यों को समझा तथा उनके द्वारा असाध्य रोगों के निवारण की विधि को सीखा। साधकों को वैज्ञानिक ढंग से तैयार की गर्इ ओशोधारा के ध्यान-समाधि कार्यक्रमों की जानकारी दी गर्इ तथा उन्हें इसमें भाग लेने के लिए प्रेरित भी किया गया। शिविर को सफल बनाने में नवीन जी, संतोष जी, अषोक जी, महेष जी एवं ऋषिराज जी का सहयोग सहरानीय रहा।

Read More

संध्या सत्संग - धनबाद, झारखंड

धनबाद, झारखंड ओशोधारा संघ, धनबाद के तत्वावधान में 11 फरवरी 2016 को स्वामी प्रेम रवि व मा अंतर किरण के निवास पर संध्या सत्संग आयोजित किया गया। सभी मित्रों ने आचार्य ओशो आधार जी के संचालन में विपस्सना ध्यान, षबद, कीर्तन व सत्संग का आनंद लेते हुए स्वामी प्रेम रवि जी की माता जी व ओशो संन्यासी मा प्रेम विमला जी को अपने श्रद्धान्जली सुमन अद्रपत किए। विषेश अतिथि के रूप में मा दीपषिखा जी की उपसिथति ने लोगों में विषेश ऊर्जा का संचार किया। शिविर के संचालन में मा अंतर किरण, ऋशि गन्डोत्रा व प्रियल गन्डोत्रा ने बड़े श्रद्धाभाव से योगदान किया।

Read More

मुद्रा चिकित्सा - पंचकुला, हरियाणा

पंचकुला, हरियाणा 14 फरवरी 2016 को 'भारतीय योग संस्थान, सेक्टर-21, पंचकुला में प्रात: 6:30 से आचार्यश्री ओशो नमन जी द्वारा मुद्रा चिकित्सा कार्यक्रम का आयोजन हुआ। आचार्यश्री ने बड़े सरल व रोचक ढंग से प्रतिभागियों को हाथों की उंगलियों द्वारा निद्रमत विभि™ा मुद्राओं की मदद से स्वस्थ जीवन जीने की कला को समझाया। कार्यक्रम के आयोजन में श्री अम्बरीष गुप्ता ने अहम भूमिका निभार्इ।

Read More

मुद्रा चिकित्सा - सिलौड़ी, मध्य प्रदेश

सिलौड़ी, मध्य प्रदेश 5 से 7 फरवरी 2016 को मध्य प्रदेश के सिलौड़ी में त्रि-दिवसीय मुद्रा चिकित्सा शिविर का आयोजन हुआ। ओशो दयाल जी एवं ओशो अरविन्द जी ने लोगों को अपने हाथों की उंगलियों से बनार्इ गर्इ मुद्राओं की मदद से अनेक बिमारियों से निजात पाने की चमत्कारिक विधियों को बड़े सरल व सरस तरीके से समझाया तथा प्रयोग द्वारा अनुभव भी कराया। शिविर के आयोजन में श्री संतोश राय, श्रीमती ज्योति राय, श्री षषिकान्त, श्री मुकेष, श्री मनीश एवं सभी संन्यासी मित्रों ने बड़े मनोयोग से योगदान किया।

Read More

प्रदर्षनी - फिरोजपुर, पंजाब

फिरोजपुर, पंजाब ओशोधारा मैत्री संघ, फिरोजपुर एवं ओशोधारा आनंद धाम, माधोपुर के समिमलित प्रयास से एम.एल.एम.सीनियर सेकेंडरी स्कूल, फिरोजपुर में 6 एवं 7 फरवरी 2016 को वसंत मेला में परमगुरु ओशो तथा सदगुरु त्रिविर के साहित्य का भव्य स्टाल लगाया गया। इस प्रदर्षनी के सफल आयोजन में माधोपुर के इंदरजीत जी एवं सूर्यकान्त जी तथा फिरोजपुर से श्री तरलोचन सिंह, गुलाटी जी, श्री कमलप्रीत, प्रमुदित जी, रवि जी, श्री सोढ़ी एवं श्री राकेष ने बड़े भाव से सहयोग किया।

Read More

एक-दिवसीय ध्यान शिविर - पटियाला, पंजाब

पटियाला, पंजाब 7 फरवरी 2016 को ओशोधारा संघ, पटियाला द्वारा सिमरन र्इ.एन.टी. सेन्टर, छोटीबरंडारी, पटियाला में आचार्य ओशो बोधिकिरण एवं मा प्रार्थना के संचालन में एक-दिवसीय ध्यान शिविर का आयोजन हुआ। भारी संख्या में उपसिथत साधक मित्रों ने ओशो की सरल किन्तु अत्यंत प्रभावकारी ध्यान विधियों को प्रयोग द्वारा अनुभव किया तथा ओशो की देषना से परिचित हुए। डा. हरिसिमरन सिंह ने अपने हास्पीटल का सुदर हाल उपलब्ध कराकर तथा गुरुजंत जी, सुनील जी, षरणजीत जी, श्री परवेष गर्ग, मा अनुपमा और उनके परिवार ने शिविर के आयोजन में महŸवपूर्ण भूमिका निभार्इ।

Read More

ध्यान समाधि - मुंगवानी, मध्य प्रदेश

मुंगवानी, मध्य प्रदेश ओशोधारा ध्यान केंद्र, मुंगवानी, सिवनी में 1 से 6 फरवरी 2016 को ध्यान समाधि कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आचार्य ओशो योगी जी एवं ओशो अरविन्द जी के संचालन में साधकों ने आननिदत एवं दिव्य जीवन जीने की कला के साथ ही परमात्मा के दिव्य संगीत 'ओंकार को सुनकर हर्शोल्लास के साथ उत्सव मनाया तथा ओशो एवं सदगुरु त्रिविर के प्रति अपने अहोभाव व्यक्त किए। शिविर के संचालन में स्वामी ध्यान सागर, श्री योगेद्र, श्री दिलीप, स्वामी वीरेद्र भारती, श्री सतपाल, श्री राजेष, श्री नामी, श्री धीरेद्र, श्री षिव के अलावा ओशोधारा संघ, मुंगवानी के सभी मित्रों ने सराहनीय योगदान दिया।

Read More

सिकन्दराबाद, तेलंगाना - सक्रिय ध्यान उत्सव

19 जनवरी 2016 को सिकन्दराबाद में आयाजित 40 दिवसीय सक्रिय ध्यान उत्सव का समापन समारोह आयोजित हुआ। प्रस्तुत है कुछ झलकियां जिसमें परमश्रद्धेय सदृगुरु ओशो सिद्धार्थ जी स्मृति चिह्न भेंट कर रहे हैं।

Read More

नवांषहर, पंजाब - ध्यान समाधि शिविर

ओशोधारा संघ, नवांषहर के तत्वावधान में ओशोधारा हाॅस्पीटल में 15 से 20 जनवरी 2016 को ध्यान समाधि शिविर का आयोजन हुआ। आचार्य ओशो मस्ताना एवं मा ओशो प्रियांषी के संचालन में प्रतिभागी साधकों ने ध्यानपूर्ण एवं आनन्दित जीवन जीने की कला सीखी। साथ ही ‘नाद दीक्षा’ के माध्यम से परमात्मा के ओंकारस्वरूप को स्वयं के भीतर पहचान कर उत्सव मनाकर परमगुरु ओशो तथा सद्गुरु त्रिविर के चरणों में अपने अहोभाव सुमन अर्पित किए। ओशो बोधिकिरण ने साधकों को संन्यास दीक्षा से नवाजा।

Read More

कालीकट, केरल - विपस्सना शिविर

15 से 17 जनवरी 2016 को कालीकट में तथा 18 से 20 जनवरी 2016 को कोइलन्दी में विपस्सना शिविर का आयोजन हुआ। स्वामी स्वानंद जी ने मुख्य आचार्य की भूमिका निभाई। कालीकट में स्वामी आनंद अभिशेक तथा कोइलन्दी में स्वामी प्रेम प्रकाष एवं स्वामी प्रेम प्रषांत ने सहयोगी आचार्य की भूमिका निभाई।

Read More

लुधियाना, पंजाब - ध्यान शिविर

17 जनवरी 2016 को लुधियाना के श्री भैनी साहिब में श्री गुरजीत सिंह जी के संचालन में एक दिवसीय ध्यान शिविर का आयोजन हुआ जिसमें प्रतिभागियों ने ओशो की सरल किन्तु अत्यंत प्रभावकारी ध्यान विधियों को सीखा। शिविर के आयोजन में श्री लखविन्दर ग्रेवाल, श्री हरप्रीत और ओशोधारा संघ, श्री भैनी साहिब के मित्रों ने सराहनीय योगदान दिया।

Read More

हापुड़, उत्तर प्रदेश - ध्यान, प्राणयाम, सत्संग शिविर

ओशोधारा ध्यान केन्द्र, सिम्भावली, हापुड़ में 15 से 17 जनवरी 2016 को तीन दिवसीय ध्यान, प्राणयाम, सत्संग शिविर का आयोजन किया गया। आचार्य ओशो अगेह जी ने बड़े सरस व सरल ढंग से प्रतिभागियों को ध्यान की विधियों को सिखाया तथा प्रयोग द्वारा ध्यान के सागर में गहरे गोते लगवाए। शिविर के सफल आयोजन में मा ओशो भवानी, राषि अनंत, षषि अनंत एवं राहुल अनंत ने मुख्य भूमिका निभाई।

Read More

चेन्नई, तमिलनाडु - समाधि प्रज्ञा

15 से 17 जनवरी 2016 को ओशोधारा ध्यान केन्द्र, चेन्नई में तमिल भाषा में ‘समाधि प्रज्ञा’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। आचार्य स्वामी ध्यान योग एवं स्वामी प्रेम निष्चल के संचालन में साधक मित्रों ने परमात्मा के दिव्य संगीत ‘ओंकार’ को सुना तथा अहोभाव के साथ उत्सव मनाया। शिविर के संचालन में श्री अरुल कुमार ने बड़े भाव से सहयोग दिया।

Read More

महाबलीपुरम, तमिलनाडु

सद्गुरु बड़े बाबा का दक्षिण भारत में आगमन: 3 जनवरी 2016 को ओशोधारा संघ, तमिलनाडु के साधक मित्रों के लिए बड़े सौभाग्य का दिन था, जब परमश्रद्धेय सद्गुरु बडे़ बाबा का महाबलीपुरम में पदार्पण हुआ। दूर-दराज से आए साधक-साधिकाओं ने बड़े श्रद्धाभाव से उनके चरण कमलों पर पुश्पवर्शा कर उनका अभिवादन किया तथा उनकी आषीश-वृश्टि में स्नान किया। दिनांक 4 से 9 जनवरी के दौरान सद्गुरु के सान्निध्य में सुरति, निरति एवं अमृत समाधि कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। ओशो मस्तो जी, ओशो ज्ञानामृत जी, ओशो नयन जी तथा ओशो अंषु जी ने भी विभिन्न सत्रों का संचालन किया। दर्षन दरबार के दौरान सद्गुरु ने बहुत ही सरल ढंग से प्रतिभागियों की जिज्ञासाओं का निवारण किया। सद्गुरु के सान्निध्य में साधक मित्रों ने चक्रमण, गीत-संगीत तथा रिसोर्ट स्थित स्विमिंग पूल में तैरने का भी आनंद लिया। 5 जनवरी को सभी ने हर्शोल्लास के साथ सद्गुरु छोटे बाबा का संबोधि दिवस मनाया। 6 जनवरी को औलिया दिवस के पावन अवसर पर बाबा ने सद्गुरु त्रिविर की मुद्रा चिकित्सा पुस्तक के तमिल संस्करण का विमोचन किया। कार्यक्रम के दौरान 4 जनवरी को स्वामी अरविंद जी ने ज्योतिश का हमारे जीवन पर प्रभाव विशय पर जानकारी दी। 7 जनवरी को ओशो अंषु जी ने मुद्रा चिकित्सा के विज्ञान तथा विभिन्न मुद्राओं की जानकारी दी।

Read More

नागपुर, महाराश्ट्र - आनंद प्रज्ञा

ओशोधारा संघ, नागपुर द्वारा 5 से 11 जनवरी 2016 को गीता मंदिर ध्यान केन्द्र में मा चंदना, ओशो भरत, श्री कमलाकर एवं ओशो धनंजय के संचालन में पार्ट टाइम ‘आनंद प्रज्ञा’ शिविर का आयोजन किया गया। सभी प्रतिभागी साधकों ने विविध ध्यान के प्रयोगों के साथ ही आनन्दित जीवन जीने के अनमोल सूत्रों को भी आत्मसात किया। कार्यक्रम के आयोजन में श्री विजय रोन्धे, विजू काका, श्री संजय पवनकर, श्री अमोल, श्री पिन्टू एवं ओशोधारा संघ, नागपुर के सभी मित्रों ने बड़े भाव से योगदान दिया।

Read More

अहमदाबाद, गुजरात - ध्यान शिविर

ओशोधारा ध्यान केन्द्र, अहमदाबाद के तत्वावधान में 3 जनवरी 2016 को संतश्री बच्चूराम आश्रम में कबीरपंथी संतश्री नरेन्द्र जी के सनिध्यय में अर्द्ध दिवसीय ध्यान शिविर का आयोजन किया गया। ओशो चेतन जी के संचालन में भारी संख्या में उपस्थित नए-पुराने साधक मित्रों ने संजीवनी ध्यान, कुंडलिनी ध्यान एवं कीर्तन ध्यान के माध्यम से ध्यान के सागर में गहरी डुबकी लगाई। प्रश्नोत्तर सत्संग में आचार्य जी ने बड़े सरस व सरल ढंग से जिज्ञासुओं को समझाया, जिससे प्रेरणा लेकर कई मित्रों ने आगामी ध्यान समाधि शिविर में भाग लेने का निबंधन करवाया। शिविर के आयोजन में ओशो धीरेन, स्वामी आनंद संत, मा ओशो षकुन्तला एवं श्री प्रमोद ने सराहनीय भूमिका निभाई।

Read More

नागपुर, महाराश्ट्र - ध्यान शिविर

ओशोधारा संघ, नागपुर के तत्वावधान में 6 जनवरी 2016 को मा चंदना एवं श्री भरत राजा जी के संचालन में श्री संजीव पथे जी के निवास पर एक दिवसीय ध्यान शिविर का आयोजन हुआ। सुबह से षाम तक चलने वाले इस शिविर में श्री संजीव पथे जी के रिष्तेदारों व अन्य मित्रों ने ध्यान, सद्गुरु प्रवचन एवं भक्ति संगीत का आनंद लिया तथा खूब उत्सव मनाया। कई मित्रों ने ओशोधारा के ध्यान समाधि कार्यक्रम में भाग लेने की इच्छा जताई। शिविर के आयोजन में मा हर्शिनी ने बड़े भाव से अपना योगदान दिया।

Read More

चंडीगढ़, पंजाब - मुद्रा चिकित्सा

6 जनवरी 2016 को बैंक ऑफ़ इंडिया, चंडीगढ़ के सेक्टर 31 स्थित आंचलिक कार्यालय में सायं 5 बजे से 7 बजे तक आचार्यश्री नमन जी के संचालन में ओशोधारा का मुद्रा चिकित्सा कार्यक्रम आयोजित किया गया। आंचलिक प्रबन्धक सरदार भूपेन्द्र सिंह जी के अलावा भारी संख्या में बैंक कर्मचारियों ने बड़े उत्साह के साथ इस कार्यक्रम में भाग लेकर मुद्राओं की मदद से स्वस्थ रहने की कला सीखी। कार्यक्रम के सफल आयोजन में श्री अम्बरीष गुप्ता एवं श्रीमती कानन गुप्ता का सराहनीय योगदान रहा।

Read More

विश्रामपुर, मध्य प्रदेश - ध्यान व सत्संग शिविर

ओशोधारा ध्यान केन्द्र, सूरजपुर के तत्वावधान में 2 जनवरी 2016 को विश्रामपुर में अर्द्ध-दिवसीय ध्यान व सत्संग शिविर का आयोजन किया गया। आचार्या मा भक्ति पूर्णिमा जी के संचालन में उपस्थित मित्रों ने ब्रह्मनाद ध्यान के माध्यम से ध्यान के गगन में उड़ान भरी और उत्सव मनाकर परमगुरु ओशो एवं सद्गुरु त्रिविर के प्रति अपने अहोभाव व्यक्त किए। प्रश्नौत्तर-सत्संग में आचार्या ने जिज्ञासुओं को उनके सवालों के जवाब बड़े ही सरल व सरस ढंग से देने के साथ ही उन्हें ओशो की देषना से परिचित कराते हुए ओशोधारा के ध्यान समाधि कार्यक्रम में भाग लेने की प्रेरणा दी। कार्यक्रम के आयोजन में स्वामी आलोक आनंद जी तथा ओशोधारा के सभी मित्रों ने भरपूर सहयोग दिया।

Read More